sapne mein gautam buddh ki murti

सपने में गौतम बुद्ध को देखना क्या होता है ? मूर्ति फोटो

भगवान बुद्ध शांति और अध्यात्म, प्रबुद्धता का प्रतिक होते है, हम यहां जानेंगे की सपने में गौतम बुद्धा को देखना कैसा होता है, इनको देखने का क्या अर्थ होता है. शायद आप जानते होंगे की गौतम बुद्ध का जन्म होने से पहले उनकी माता को कुछ सपने आये थे, जिन्हे देख कर खुद उनकी माता भयभीत हो गई थी.

फिर सभा में जब पंडितों को बुलवाकर राजा शुद्धोधन ने उन सपनो का अर्थ जानना चाहा तो उनमे से एक पंडित ने यह कहा था की यह बालक आगे चलकर एक महान सन्यासी बनेगा, यह इन सभी चीजों से ऊब जायेगा और इसके अंदर वैराग्य पैदा होगा, यह आध्यात्मिक सम्राट बनेगा. यह सुनकर राजा डरे और उन्होंने वह हर एक कोशिश की जिससे की गौतम के अंदर वैराग्य की भावना पैदा न हो, लेकिन होनी को कौन टाल सकता है एक दिन गौतम ने महल छोड़ ही दिया.

यह सब बताने से हमारा अर्थ है की हम यह मानते है की हमारे देखे गए सभी सपने अर्थ नहीं रखते लेकिन कुछ सपने ऐसे होते है जो की हमारे जीवन पर पूरा असर करते है.

हमारा मस्तिष्क ऐसा है की हम जिन बातों को दिन में करते है, जैसा सोच विचार करते है उसके मुताबिक ही हमें सपने में वही बाते देखने को मिलती है. इसीलिए कई व्यक्ती सपनो को महत्त्व नहीं देते, आप आगे पढ़ने से पहले यह देखे की जब आपको गौतम बुद्धा का स्वप्न आया तब उससे पहले क्या आपने गौतम बुद्ध की कोई पुस्तक पढ़ी थी, क्या आपने फिल्म देखि थी या उनके बारे में सोच विचार किया था.

अगर आपने ऐसा किया था और फिर स्वप्न आया तो यह स्वप्न आपके लिए विशेष अर्थ नहीं रखता, लेकिन अगर आपने ऐसा कुछ नहीं किया और आपको गौतम बुद्धा स्वप्न में आये हो तो यह आपके लिए बहुत अर्थ रखता है इसके लिए आप निचे तक पोस्ट जरूर पड़ें.

सपने में गौतम बुद्ध को देखना

सपने में गौतम बुद्धा का दिखाई देना शुभ होता है, बुद्ध आतंरिक शांति, आध्यात्मिक जाग्रति, आनंद, करुणा और धैर्य को दर्शाते है. बुद्ध को शांत बैठे हुए देखना जीवन में शांति लाता है इसके अलावा यह स्वप्न और भी संकेत करता है. अगर आप जल्दी ही किसी स्थिति से घबरा जाते है, तो यह स्वप्न आपके लिए कठिन परिस्थितियों में शांत रहने का सूचक हो सकता है.

अगर कोई व्यक्ती अपने आपको बुद्ध के पूर्वजो से बात करते हुए देखे तो यह बहुत ही शुभ होता है, ऐसे व्यक्ती का जीवन धन्य हो जाता है. इसके अलावा अगर कोई व्यक्ती अपने आपको बुद्ध से बात करता हुए देखे तो यह भी बहुत भाग्यशाली होता है. यह आगामी जीवन में शांति और सफलता को भी दर्शाता है.

बौद्ध धर्म के सपने अध्यात्म, ख़ुशी, शांति और जीवन में हो रही अराजकता को रोकने की और भी संकेत करते है. अगर आप बुद्धवादी नहीं है और आपको स्वप्न में बुद्ध दिखाई देते है तो यह बताता है की आपसे कोई व्यक्ती मदद लेना चाहता है, लेकिन उस व्यक्ती में साहस की कमी होगी.

जब किसी व्यक्ती को बार बार गौतम बुद्ध दिखाई दें तो ऐसे में व्यक्ती के जरूर ही कुछ सम्बन्ध रहे होंगे, यह सम्बन्ध पिछले जन्म के भी हो सकते है. इस तरह अगर आपको बार बार बुद्ध या बुद्ध से जुड़े कोई भी दृश्य दिखाई देते है तो आप ध्यान लगाना शुरू करे, या किसी बुद्ध संस्यासी से मिले और इस बारे में चर्चा करे.

जब आप इन सपनो पर ध्यान नहीं देंगे तो यह एक समय पर आकर आना बंद हो जायेंगे, क्योंकि अवचेतन मन एक समय तक आपको याद दिलाता है फिर अगर आप उस पर कोई क्रिया प्रतिक्रिया नहीं करते तो वह उसे दिखाना रोक देता है.

सपने में बुद्ध को देखना यह भी दर्शाता है की आपको भौतिक जीवन, धन और जीवन के नशे में खोना नहीं और आपको आतंरिक शांति पर ज्यादा ध्यान देना होगा. बुद्ध धर्म हमे बेकार के विचारों और अहंकार ईर्ष्या से दूर रहना और सांसारिक जीवन के साथ साथ आतंरिक शांति को पाने की शिक्षा देता है, यही बुद्ध का प्रतिक भी है.

अगर आप ध्यान करते है और ऐसे में आपको रात में बुद्ध किसी भी रूप में दिखाई देते है तो यह आपकी आध्यात्मिक जाग्रति का सूचक होता है. ऐसे में आपको ध्यान में लगे रहना चाहिए, आगे चलकर आपको सफलता जरूर मिलेगी.

sapne mein gautam buddh ki murti

सपने में गौतम बुद्ध की मूर्ति देखना

भगवान गौतम बुद्ध की मूर्ति देखना आध्यात्मिक विकास को दर्शाती है, बुद्ध की मूर्ति ज्ञान का प्रतिक होती है. इसके अलावा अगर आप किसी समस्या से परेशान है तो आपकी समस्याओं का जल्द ही समाधान हो जायेगा. स्वप्न में बुद्ध की प्रतिमा देखना भाग्यशाली होता है, यह आपको दर्शाता है की आपका जीवन कई अवसरों से भरा पड़ा है.

अगर आप सपने में जश्न मना रहे हो और गौतम बुद्ध की मूर्ति देख रहे हो तो यह स्वप्न दर्शाता है की आपको अपने आतंरिक भावनाओ के बारे में दूसरे लोगों से बात करने में असमर्थता आती है, यानी आप अपने अंदर के भाव, अंदर की बाते दूसरों को ठीक से बता नहीं पाते है. इसके अलावा कुछ शास्त्रों में बुद्ध की मूर्ति के देखने का मतलब चिंता बताया गया है, यानी की आप वास्तविक जीवन में किसी बात को लेकर चिंतित है और जीवन में शांति चाहते है.

अगर आपको बुद्ध से जुड़ा कोई नकारात्मक स्वप्न दिखाई देता है तो समझे की आपको अपनी निजी जरूरतों के बारे में सोचने की जरुरत है.

इस तरह से भगवान बुद्ध का दिखाई देना हर तरह से शुभ होता है, यह शांति, करुणा, अध्यात्म और प्रेम को दर्शाते है. उम्मीद करते है की सपने में गौतम बुद्ध को देखने का मतलब जानकर अच्छा लगा होगा. इसके अलावा जब ध्यानी, सांसारिक, बुद्धवादी यह स्वप्न में भगवान बुद्ध को देखते है तो इनके अर्थ अलग अलग निकलते है. वैसे बुद्ध का दिखाई पड़ना किसी तरह का अशुभ फल नहीं देता है, इसलिए यह कोई चिंता का विषय नहीं है.

इसके अलावा अगर इस पोस्ट में दी गई बातों को लेकर आपके अंदर कोई डाउट हो तो वह आप कमेंट में हमसे पूछे सकते है और आपको बुद्ध देव किस तरह से स्वप्न में दिखे थे यह जरूर बताये, पूरा स्वप्न कमेंट में लिख कर भेजे.

हमने सपनो के विज्ञानं के बारे में काफी कुछ सीखा है, काफी समय इनके अर्थ जानने में लगाए आज हमे इसके बारे में काफी कुछ मालुम है। हम चाहते है की हमें जो मालूम है उससे लोगों को लाभ हो, हम उनकी मदद कर सके, बस इसीलिए आपके समक्ष यह वेबसाइट बनाई है। इसमें हमे आपकी मदद की जरुरत है वो यह की आप इन Posts को ज्यादा से ज्यादा Facebook, Whatsaap के Group में और अपने दोस्तों को भेजे ताकि इस जानकारी का सभी लाभ उठा सके - धन्यवाद। जरूर शेयर करे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!