अपने सपने में त्रिशूल देखना सही मतलब क्या है शिवजी, माताजी

त्रिशूल भुत भविष्य और वर्तमान तीनो काल का प्रतिक भी होता है, यह मृत्यु और नए जन्म को भी दर्शाता है. स्वप्न में त्रिशूल बहुत ही कम लोगों को दिखाई देता है, लेकिन जिसको दिखाई दे जाए तो फिर क्या बात है, यह बहुत ही शुभ होता है. आइये आज हम यहां जानेंगे की सपने में त्रिशूल देखना कैसा होता है इस का क्या मतलब है.

त्रिशूल भगवान शिव का और माता जी का शस्त्र होता है, आपने भी भगवान शिव शंकर के मंदिरो में एक तरफ त्रिशूल लगा हुआ देखा ही होगा, त्रिशूल के तीनो छोर ब्रह्मा विष्णु महेश को भी दर्शाते है. यह तीनो देवता एक दुनिया को बनाने वाले, एक दुनिया को चलाने वाले और आखिर में दुनिया का विनाश करने वाले. इसीलिए त्रिशूल को तीनो काल, भुत भविष्य, वर्तमान और सृजन व विनाश का प्रतिक बताया गया है.

उसी तरह माता जी के मंदिर में भी त्रिशूल देखा ही होगा, वह एक हाथ में त्रिशूल लेकर खड़े होते है या बैठे हुए होते है. माता जी का त्रिशूल भी अच्छे फल ही देता है. माता जी ने भी कई राक्षसों का विनाश किया था, त्रिशूल से ही कई बुरे राक्षस का अंत किया था. इसीलिए त्रिशूल को बुरी चीजों के विनाश का सूचक माना गया है.

swapna me trishul aana matlab in hindi

सपने में त्रिशूल देखना मतलब कैसा है

जब किसी व्यक्ति को अपने स्वप्न में त्रिशूल दिखाई पड़ता है तो यह इसी तरह से सृजन व विनाश या किसी उतपत्ति को दर्शाता है. विनाश से हमारा अर्थ है बुरी चीजे व बुरे वक्त का विनाश और नए दौर का सृजन इस तरह से स्वप्न शास्त्र व हमारे अनुसार त्रिशूल काफी अच्छा संकेत होता है. यह पूरी तरह से सकारात्मक परिणाम लाता है, फिर चाहे सपने में शिव जी का त्रिशूल या माता जी का त्रिशूल दिखाई दें यह बहुत शुभ होता है. चलिए अब आगे त्रिशूल देखने के अर्थ के बारे में जानते है.

त्रिशूल को सपने में देखना शुभ होता है, इस का मतलब सकारात्मक होता है. यह स्वप्न बुरे वक्त का अंत, सौभाग्य प्राप्ति, भय विनाशक, आत्मोन्नति, उच्च पद, मार्गदर्शन, राजकीय सम्मान व पुरुस्कार मिलने का सूचक होता है. त्रिशूल का स्वप्न बहुत ही कम लोगों को दिखाई पड़ता है. लेकिन जिसे भी इसका दर्शन हो जाए समझो उसका बहुत ही अच्छा समय आने वाला है. चलिए आगे इसके अर्थों को और अच्छे से समझते है.

नेपाल गुरु जी के अनुसार त्रिशूल का दिखाई पड़ना भारी कठिनाइयों से छुटकारा मिलने का सूचक भी होता है, यह किसी अनहोनी के टलने को भी दर्शाता है. अगर आप बुरे दौर से गुजर रहे है, आपको लगता है की आप किसी कठिनाई में गिर सकते है तो यह स्वप्न देखने के बाद बेफिक्र हो जाये क्योंकि अब ऐसा कुछ भी नहीं होगा, अब आपका अच्छा समय शुरू होने वाला है.

इसके अलावा अगर कोई सपने में देखे की उसे किसी व्यक्ति ने त्रिशूल भेंट में दिया है, गिफ्ट किया है तो यह किसी अज्ञात स्त्रोत से धन की प्राप्ति होने को दर्शाता है. ऐसा स्वप्न देखने पर व्यक्ति को किसी ऐसी जगह से धन की प्राप्ति होती है जिसका उसे अंदाजा भी नहीं होता. एक अज्ञात स्तोत्र से उसे धन प्राप्त होता है. इस तरह से आपको कोई सपने में त्रिशूल गिफ्ट करे तो यह बहुत शुभ होता है.

त्रिशूल देखने का मतलब शुभ

त्रिशूल हर तरह से सकारात्मक फल करेगा, अगर आप किसी राजकीय या राज्यस्तरीय काम कर रहे है या उससे जुड़ा कोई भी काम कर रहे हो तो यह स्वप्न आपको राज्य से सम्मान दिलवाएगा, आप किसी प्रतिस्पर्धा में है तो वहां पर आपको जित हासिल होगी.

आप जो भी कार्य करते है तो उसमे आपको उन्नति मिलेगी, आपको कोई सा अच्छा पद भी प्राप्त हो सकता है. इसके अलावा अगर आप किसी परीक्षा की तैयारी कर रहे है, कोई सी नौकरी पाने की तैयारी कर रहे है तो ऐसे में यह स्वप्न दर्शाता है की आपको उसमे सफतला जरूर मिलेगी, आपको पद की प्राप्ति जरूर होगी.

अगर कोई व्यक्ति सपने में त्रिशूल से आक्रमण हमला करते हुए देखे तो यह स्वप्न अशुभ होता है, यह व्यक्ति को शत्रुओ द्वारा हानि मिलने का सूचक होता है. अगर कोई दूसरा व्यक्ति त्रिशूल से आक्रमण हमला करते हुए दिखे तो यह जीवन में शांति मिलने का सूचक होता है.

अगर फ़िलहाल जीवन में किसी परेशानी से जूझ रहे है तो ऐसे में यह स्वप्न इन सभी परेशानियों के ख़त्म होने को दर्शाता है. ईश्वरीय कृपा से आपकी यह सभी परेशानियां नष्ट हो जाएंगी और आपको भाग्योदय की प्राप्ति होगी. ऐसा होता है की कई बार बुरा वक्त चलता रहता है, बहुत कोशिशों के बाद भी हमारा भाग्य नहीं खुलता तो ऐसे में यह स्वप्न देखना बहुत ही शुभ होता है, ऐसे हालातों में यह स्वप्न भाग्योदय होने का संकेत करता है.

इसके अलावा अगर आप किसी बात को लेकर भयभीत थे, अपने अंदर किसी बात को लेकर डर रहे थे तो यह स्वप्न देखने के बाद समझे की आपको अब डरने की भयभीत होने की जरुरत नहीं है. यह स्वप्न आपके आने वाले भय का विनाश कर देगा, ऐसे में त्रिशूल देखने का मतलब है की यह आपके सभी कष्टों को हर लेगा, सभी डर और भय से आपको मुक्ति दिलवाएगा.

त्रिशूल स्वप्न आत्मोन्नति भी करवाता है, व्यक्ति को जीवन के प्रति गहरी समझ आने लगती है, उसको सम्मान की प्राप्ति भी होती है. सीधे से कहा जाए तो त्रिशूल देखने का मतलब बहुत ही अच्छा होता है, यह भाग्योदय करवाता है, कठिन दौर से गुजर रहे है तो समझे की अब बुरा वक्त खत्म होने वाला है, इसके अलावा कई शुभ फलो की प्राप्ति करवाता है.

अगर आप किसी बेबूझ परेशानी में उलझे है या किसी बात को लेकर ऐसे चिंतित है की यार समझ नहीं आ रहा क्या करू और ऐसी स्थिति में आप त्रिशूल का स्वप्न देखते है तो समझे की आपको मार्गदर्शन की प्राप्ति होगी. आपको किसी भी व्यक्ति या किसी भी जरिये से बहुत अच्छा मार्गदर्शन मिलने वाला है जिससे की आपका जीवन बदल जाएगा और आपकी समस्या का समाधान होगा.

शिवजी माताजी का त्रिशूल देखना कैसा है

त्रिशूल हर तरह से शुभ होता है, भले ही आपको शिवजी का त्रिशूल दिखाई दिया हो या माताजी का त्रिशूल, हमने जो ऊपर त्रिशूल के फल बताये है वह सभी फल आप कैसे ही ईश्वर के हाथों में त्रिशूल देखे वही फल आपको मिलेगा. त्रिशूल संहार करने वाला, विनाश करने वाला, बुराई को ख़त्म करने वाला होता है. आप सपने में किसी भी तरह से त्रिशूल को देखे यह बहुत ही शुभ होता है. बाकी आप कमेंट में यह जरूर बताएगी की आपको शिवजी व माताजी का स्वप्न किस रूप में आया था, आपने उनको त्रिशूल की स्थिति में देखा.

आपको त्रिशूल का कैसा स्वप्न आया था वह आप निचे कमेंट में लिख कर हमे जरूर बताये. त्रिशूल बहुत ही कम लोगों को दिखाई देता है जिसको दिखाई दे जाए तो समझे की वह बहुत ही भाग्यशाली है, यह हर तरह से सभी तरफ से शुभ फल देता है.

उम्मीद करते है की आपको यह sapne mein trishul dekhna kya matlab hai के बारे में पढ़कर व जानकर अच्छा लगा होगा, यह बहुत ही सकारात्मक स्वप्न है और यह आपको बहुत ही अच्छे परिणाम देगा. अगर आप यह स्वप्न देख कर चिंता कर रहे थे की पता नहीं क्या मतलब होगा इसका तो अब आप बिलकुल चिंता नहीं करे या बहुत ही शुभ है और आपको अच्छे ही फल देगा. चाहे आपको शिव जी का त्रिशूल या माता जी का त्रिशूल दिखाई दिया हो यह सभी शुभ व बुरे वक्त के अंत को दर्शाते है.

हमने सपनो के विज्ञानं के बारे में काफी कुछ सीखा है, काफी समय इनके अर्थ जानने में लगाए आज हमे इसके बारे में काफी कुछ मालुम है। हम चाहते है की हमें जो मालूम है उससे लोगों को लाभ हो, हम उनकी मदद कर सके, बस इसीलिए आपके समक्ष यह वेबसाइट बनाई है। इसमें हमे आपकी मदद की जरुरत है वो यह की आप इन Posts को ज्यादा से ज्यादा Facebook, Whatsaap के Group में और अपने दोस्तों को भेजे ताकि इस जानकारी का सभी लाभ उठा सके - धन्यवाद। जरूर शेयर करे।

14 Comments

  1. Meine aaj time 3am to 4 am ke beech ye sapna dekha date 16th November 2020 ,day Monday,
    Meine dekha mein ek aisi jagah per hoon jaha per bahut saare trishul alag,alag size ke hain waha ek saadhu bhi hain aur wo mughe ek trishul dekar kehte hain ki ise ghar mein gaad dena mein wo le leta hoon lekin mera man ek bada trishul lene ka hota hai to mein saare dekh raha hota hoon itne mein mera dhyan apne haath mein liye hue trishul per jaata hai to dekhta hoon oosme Om bhi latka hua hai saadhu aur ek tent type kutiya to thik hai, iske alawa shayad mughe apne Pitaji ki awaj sunai deti hai aur mere saath koi bachcha hota hai lekin ye poori tarah confirm nahi hai.

  2. हमने आज दिन में देखा हम कही शादी में गए हुए है,वहां पर एक बच्ची आती है जिसका चेहरा जला हुआ था हम लोग उसे कुछ खाने के लिए देना चाहते है सुर कुछ छोटे बच्चे उसे मैच खेलने का आफर देते है तभी अचानक से गलती से उस बच्ची के सर में चोट लग जाती है तो हम लोग और उस कालोनी की कुछ महिलाएं आती है उस बच्ची के सर में हम लोग दवा लगा रहे होते है तभी कुछ पुरुष लोग आते है जो दवा लगा रही थी उन पर टिप्पणी होती है जो हमसे बर्दास्त नही होता और हाथापाई शुरू हो जाती है अचानक से एक लोहे की जाली के पास हम गिरते है और वो त्रिशूल उठाकर हम पर हमला करने वाला होता है पर कर नही पाता है ।
    तभी हमारी आंख खुल जाती है!कृपया मार्गदर्शन क्या कुछ बहुत ही बड़ी विपत्ति आने वाली है या सुखद समाचार ।
    अभी तुरतं देखे है और आपको बताया है

    1. निश्चिन्त रहिये, पहली बात तो दिन में देखा गया सपना सार्थक नहीं माना जाता है और आपने जो देखा है उसमे ऐसा कुछ नहीं है, कोई विपत्ति नहीं है आप निश्चिन्त रहिये.

  3. Jai mata di guru g
    Mana sapna ma deakha ke ek jaga bhaut sra trishul gada hua hai or uska pass ek naddi be hai or mai un ma ek trishul haath ma pakad lati hu esa kya matlav hua guru g

  4. Jai mata di guru g
    Mana sapna ma deakha ke ek jaga bhaut sra trishul gada hua hai or uska pass ek naddi be hai or mai un ma ek trishul haath ma pakad lati hu esa kya matlav hua guru g

  5. Maine sapne mein dekha ki mere ghar me bholenath ki murti rakhi hai jiski mein pooja karti hun or bholenath k lie apne hathon se trishul bana kr mene unke ek taraf rakh dia mene dekha ki un k pas already 2 trishul the ho sakta hai ki ek mata parvati ji ka ho or dusra swayam shankar ji ka fir bhi mene un k lie ek tisra trishul apne hath se bana kar unko bhait kiya par is sapne ka pura arth mein nahi janti kya aap mujhe bta sakte hain….? Jai bhole nath jai mata parvati ji ki 🙏😊

  6. Guru ji namaskar,
    Maine aaj rat ko sapne mai dekha ki mere ghar ke mandir mai mata rani ka trishul aur talwaar hai jise maine safai karte samay waha se hata kar ek cardboard ke box mai daal diya hai…lakin kuch samay baad maine dekha ki wo trishul aur talwaar dono ko mere husband ke bhanje ne le liya hai to ab mai unse trishul aur talwaar ko wapas se lene ki koshish kar rahi hoo aur mera sapna toot jaata hai…kripaya bataye iska kya matlab hai 🙏🙏

  7. maine ek sapne me dekha ki mai jaise mata mansa devi mandir me matha tekne gya baha jagran bhi chal raha tha baha jo singer tha unme jaise baha bhete gatte huye sawari aa jati hai or bo gayak mujhe puri bheed se udhakar bulate hai mata rani ki taraf dhayan lagane ke liye kehte hai or jab main dhyaan lagata hu to mujhe baha mata rani ke aage pade ek chatar me 3 muh ka bane trishul ka uper ka hissa dikhai deta hai or mata ki sabari me bo singer mujhe puchta hai ki kya kuch dikhai de raha hai main baha unhe haa kehta hu uske bad bo meri muthi me 2simple 5 rupeye ke sikke or do gold ke sike patta nahi kaise bana dete hai simple bale sikke to pata nahi lekin gold ke do sikke khone ke dar ke karn me apni jeans paint ke aagle pocket me rakh leta hu jaise hi mai ghar aane ke liye tyaar hota hu phir se 4 gold ke sikke me hath me kaise ban jatte hai main unhe bhi mata rani ka ashirwaad manta hu or ghar aane lagta hu to choro se bachne ke liye bahi singer ko mata rani ka jo sone ka kamra hai baha se do us singer ko sulakar mere sath mer ghar tak mujhe chorne ke liye mere sath chalte hai or uske bad meri ankh khul jati hai uthkar main samya dekhta hu to 3:15 ka time ho rakh hota hai or ye sapna mujhe pehle gupat navratri par aata hai jo ki aaj ka din hai

  8. सपने में त्रिशूल दिखा हैं और उन्हें मै संभाल के रख रहा हूं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!