sapne me purvaj rote baat karna bar bar milna rona

सपने में पूर्वज देखना या बात करना यह है 9 सच असली मतलब

अपने सपने में मरे हुए पूर्वज देखना शुभ और अशुभ दोनों फल हो सकते है, यह सपने के ऊपर निर्भर करता है. वैसे ज्यादातर पूर्वज के सपने श्राद्ध के समय ही आते है बाकी दिनों में बहुत कम ही लोगों को पूर्वज के सपने दिखाई पड़ते है. जब व्यक्ति मर कर पूर्वज हो जाता है और वह स्वप्न में किसी रूप में दिखाई पड़ता है तो स्वाभाविक सी बात है की व्यक्ति डर सा जाता है और उसके अंदर कई सवाल उठने लगते है. यहां हम आपको सपने में पूर्वज देखना और मतलब क्या होता है इसके बारे में अच्छे से बताएंगे.

Sapne Me Purvaj Dekhna Baat Karna ?

सबसे पहले हम आपको यह बताना चाहते है की अगर हाल ही में आपने पूर्वजो के बारे में कुछ पढ़ा या कोई वीडियो देखा हो या कुछ भी उनसे जुड़ा सोचा हो और आपको फिर उन्ही दिनों पूर्वज यानि वही मरे व्यक्ति जिनके बारे में आपने सोचा या उनसे जुड़ा कोई लम्हा याद किया हो तो ऐसे में देखा गया सपना सिर्फ मन के सोच विचार का नतीजा होता है.

sapne me purvaj rote baat karna bar bar milna rona

यह और कुछ नहीं आपने जो बाते की थी या कुछ लम्हे उनके याद किये थे तो मन उन्ही बातों को लम्हो को सपने में दिखा देता है. हमारा चेतन मन नींद में सोया हुआ रहता है ऐसे में मन अपने मुताबिक कुछ भी सपने में दिखा देता है. तो सोच विचार से प्रभावित हुए सपनो का असल जीवन पर कोई असर नहीं होता है.

अगर आपने भी सोचा था या कुछ लम्हो को याद किया था फिर आपको सपने में पूर्वज के यानी मरे हुए लोगो के दर्शन हुए हो तो आप चिंता मत करिये इसका कोई असर आपके जीवन पर नहीं होगा. लेकिन आपने कुछ सोच विचार या ऐसा कुछ भी नहीं किया था तो इसका जरूर ही कुछ न कुछ अर्थ होगा, आपको अपने पूर्वज कुछ न कुछ सन्देश जरूर देना चाहते है. चलिए आगे इसी बारे में मतलब कैसा होता है यह जानते है.

सपने में पूर्वज देखना मतलब कैसा ?

ऐसा माना जाता है की जब सपने में पूर्वज या मरे हुए परिजन दिखाई देते है तो वह हम से कुछ कहना चाहते, हम से मदद चाहते है इसीलिए जब किसी को अपने मरे हुए पूर्वज दिखाई देते है तो वह थोड़े परेशान से हो जाते है. सपने में पूर्वज देखने का मतलब शुभ और अशुभ दोनों ही हो सकते है.

वैसे श्राध्द के समय पर पूर्वजो के स्वप्न आना शुभ माना जाता है. ऐसा माना जाता है की वह आपके द्वारा किये गए श्राध्द और दान से प्रसन्न है ऐसे में वह आपको आशीर्वाद देने के लिए स्वप्न में आते है. लेकिन बाकी समय पूर्वजो को देखना अशुभ और एक चिंता का विषय पाया गया है. अगर किसी व्यक्ति को स्वप्न में ढेर सारे पूर्वज दिखाई दिए हो तो यह अशुभ माना जाता है, ऐसा स्वप्न देखने पर घर में किसी व्यक्ति पर संकट आ सकता है.

लेकिन कभी भी पूर्वज को खुश देखना, जैसे वह खड़े दिखाई दिए हो या किसी भी अवस्था में खुश दिखाई दिए हो तो यह सपना शुभ समझा जाता है. जब पूर्वज हमारे द्वारा किये गए पूजा आदि से खुश हो जाते है तो अक्सर वह ऐसे स्वप्न में खुश दिखाई दे जाते है. अगर कोई श्राध्द के वक्त ऐसा स्वप्न देखे तो समझे की वह आपके द्वारा की गई श्राध्द से पूरी तरह संतुष्ट है.

श्राद्ध का समय ऐसा माना गया है की इन दिनों सभी पूर्वज धरती लोक पर ऊर्जा लेने आते है, हिन्दू धर्म में इन दिनों पूर्वज को संतुष्ट करने के लिए श्राध्द किया जाता है और उनसे जोड़ा कोई भी दोष दूर करने के लिए पंडित द्वारा कर्मकांड भी करवाया जाता है. विज्ञानं इस बात को नहीं मानता लेकिन हमारे धर्म में इसका विशेष महत्त्व है, और इस बात को झुठलाया नहीं जा सकता कुछ न कुछ तो रहस्य है ही.

पूर्वज से बात करना

जब इंसान मरता है और उसकी कोई अधूरी इच्छा बाकी रह जाती है तो जब तक उसकी वह इच्छा पूरी नहीं होती वह धरती लोक से नहीं जाता और नए जन्म की ओर गति नहीं करता. ऐसे में वह मरा हुआ व्यक्ति अपने परिजनों से संपर्क साधने का प्रयास करता है. विज्ञानं भी इस बात को माना है की आत्माये नींद में हमसे संपर्क साधने का प्रयास करती है. इसी दौरान हमे उनसे जुड़े स्वप्न दिखाई पड़ जाते है.

जब हमे ऐसे स्वप्न आते है तो मानो वह हम से कुछ कह रहे हो. सपने में पूर्वज से बात करना मतलब की आपके पूर्वज आपसे कुछ कहना चाह रहे है, जब स्वप्न में दोनों आपस में ख़ुशी ख़ुशी बात करते हुए दिखाई पड़े तो यह शुभ होता है यह आपके जीवन को प्रभावित नहीं करता, बस यूँ समझे की आपके पूर्वज आपके आस पास ही है और वह खुश है.

 

लेकिन सपने में अपने पूर्वज से बात करते हुए देखने पर आप देखते है की पूर्वज आपको किसी बात के बारे में बता रहे है या किसी समस्या के बारे में बता रहे जरुरी नहीं की वह आपको सीधे समस्या ही बता दे, अक्सर सपने प्रतीकात्मक रूप में आते है. इसलिए आपको देखे गए सपने का प्रतीकात्मक रूप समझना होगा.

कई व्यक्तियों को अपने पूर्वज बुरी स्थिति में दिखाई देते है, जो की ठीक संकेत नहीं होता. ऐसे में आपके पूर्वजो की गति नहीं हुई है वह भटक रहे है और बुरी स्थिति में है. ऐसे में आपको पंडित से मिलकर पितृदोष के बारे में जानना चाहिए, अगर आपको पितृदोष निकलता है तो उसकी शांति जरूर करवाए ताकि सभी पूर्वज की आत्मा को शांति मिले और वह आगे गति कर सके.

पूर्वजो के पास अपनी मदद के लिए कोई नहीं होता है बस जहां वह जीवित रहे थे उन्ही घर वालो से उनका संपर्क होता है. वह सिर्फ उन्ही के लोगों से मदद मांग सकते है, ऐसे में कई बार पूर्वज हमे नुकसान भी पहुंचा देते है. नुकसान वह तब पहुंचाते है जब हम उनकी कोई किसी भी तरह की सहायता नहीं कर पाते है.

पूर्वज को रोते देखना

अपने सपने में पूर्वज को रोते देखना अच्छा नहीं माना जाता, यह स्वप्न उनकी बुरी अवस्था को दर्शाता है. ऐसे में वह सपने में आकर आपसे मदद मांगना चाहते है. जब किसी व्यक्ति को ऐसा स्वप्न आये तो पितृदोष की शांति जरूर करवाए. इसके अलावा पूर्वज में कोई खास व्यक्ति दिखाई दे तो उनके लिए भी पूजा व कुछ करवाए. वस्त्र या उपयोगी चीजों का दान करे जिससे की उनको ऊर्जा मिले और वह प्रसन्न हो जाए. रोते देखना ठीक नहीं होता, अगर आपको यह सपना आया है तो आप इसे साधारण न समझे.

पूर्वज को आशीर्वाद देते देखना

जब किसी व्यक्ति को अपने सपने में पूर्वज आशीर्वाद देते हुए दिखाई देते है तो यह बहुत शुभ स्वप्न होता है, यह संकेत करता है की पूर्वज आपसे प्रसन्न है ऐसे में व्यक्ति को पितरों की कृपा प्राप्त होती है जिससे की उसके सफलता के मार्ग खुलते है और उसके घर में भी खुशहाली बनी रहती है. पितरों यानि पूर्वजों का आशीर्वाद बहुत शक्तिशाली होता है, जिनपर उनकी कृपा होती है वह ज़िन्दगी में खूब तरक्की करता है.

पूर्वज को आकाश या कही देखना

अगर किसी व्यक्ति को अपने पूर्वज आकाश में या किसी सुन्दर जगह पर दिखाई देते है तो समझे की आपके पूर्वज की आत्मा को गति प्राप्त हो गई है, वह जन्म और मृत्यु के चक्र से वापस जुड़ गए है. ऐसा भी माना जाता है की वह आपको भुला नहीं पा रहे है, उन्हें इस जन्म का मोह अभी भी लुभा रहा है. यह सपना आपके असल जीवन पर कोई नकारात्मक असर नहीं करता है, इसलिए ऐसा स्वप्न देखने पर किसी तरह की चिंता न पाले.

पूर्वज का तर्पण

जब किसी व्यक्ति को पूर्वजो का तर्पण दिखाई दें तो यह अच्छा सपना माना जाता है, सफलता और धन की प्राप्ति को दर्शाता है. अगर आप श्राध्द के वक्त तर्पण को या खुद को तर्पण करते हुए देखते है तो आप ध्यान दें की श्राध्द में की जा रही पूजा में आप कही कुछ भूल तो नहीं रहे, कोई दान या कुछ वस्तु.

परिवार का मोह

आत्मा गति दो कारणों से नहीं कर पाती है पहला अधूरी इच्छा, दूसरा है घर का मोह. ऐसे में वह घर को छोड़ नहीं पाते है. ऐसे में आपको सपने में आभास होगा की पूर्वज घर आये है या आस पास है, कई बार वृद्ध के भेष में भी वह सपने में दिखाई पड़ जाते है. हिन्दू धर्म में व्यक्ति के मरने के बाद गुरुड़ पुराण इसीलिए सुनाई जाती ताकि वह अब यह घर छोड़कर आगे गति कर सके, लेकिन कई बार कुछ कारणों से व्यक्ति की आत्मा भटकती रहती है और ऐसे में वह कई बार अपने लोगों को सपने में भी दिखाई दे जाती है.

बार बार पूर्वज का सपना आना

जब किसी व्यक्ति को बार बार किसी के या अपने पूर्वज के सपने आते है तो ऐसे में उन्हें सपनो को समझने की कोशिश करना चाहिए, सपने में वह क्या कह रहे है आदि. इसके अलावा अपने नजदीकी पंडित से मिलकर पितृदोष के बारे में जानकारी लें. अगर आपकी कुंडली या घर में किसी तरह का पितृ दोष है तो उसकी शांति करवाए. कई बार अतृप्त पूर्वज भटकते रहते है ऐसे में वह बार बार दिखाई पड़ते है, लेकिन जब उनकी इच्छा पूरी हो जाती है तब वह चले जाते है.

पूर्वज को बीमार देखना

अपने पूर्वज को बुरी स्थिति में देखना अच्छा नहीं होता है, कई व्यक्ति सपने में पूर्वज को बीमार देखते है यानी ऐसी स्थिति में देखना जो की बुरी हो, बीमार दिखना आदि तो ऐसे देखना किसी भी तरह से शुभ नहीं होता. यह संकेत करता है की आपके पूर्वज की आत्मा भटक रही है वह बुरी स्थिति में है, वह परेशान है, पीड़ित है. वह दुःख भोग रहे है उनकी गति ठीक से नहीं हो रही है.

सीधे तौर पर कहे तो आपके पूर्वज ठीक स्थिति में नहीं है वह परेशान है और दुःख भोग रहे है. ऐसे में आपको पितृ शांति करवाना चाहिए या कुछ ऐसे उपाय करने चाहिए जिनसे की आपके पूर्वज को शांति मिले. इसके लिए आप किसी ज्ञानी पंडित से कुंडली दिखवाए और घर में पितृ दोष भी दिखवाए ताकि असल बात सामने आ सके. इस तरह से आप उपाय के जरिये पूर्वजो की आत्मा को शांति दे सकते है.

पूर्वज को देखने पर क्या करे

अगर आपने अपने पूर्वजो को बुरी स्थिति में देखा है या आपको बार बार वह दिखाई देते है तो आप किसी अच्छे पंडित से मिले और अपनी कुंडली और घर के बारे में पूछे. अगर आपकी कुंडली में कोई पितृ दोष निकले तो उसकी शांति करवाए और अगर घर में कोई दोष निकले तो उसे भी शांत करवाए.

इसके अलावा घर में एक दीपक शाम को रोजाना पूर्वजो के नाम का जलाये, इस बारे में भी आप पंडित से सलाह लें. इस तरह से आप पूर्वज की अधूरी इच्छा पूरी करके उनकी आत्मा को आगे गति दे सकते है. जिससे की वह अपना नया जन्म ले सके. ऐसा करने से व्यक्ति को पुण्य की प्राप्ति और पूर्वज की कृपा भी मिलती है.

उम्मीद करते है की आपको apne sapne mein purvaj dekhna ka mtlab rona baat karna के बारे में पढ़कर अच्छा लगा होगा, इसके अलावा आप हमे यह जरूर बताये की आपको मरे हुए पूर्वज सपने में कैसे दिखाई दिए थे. ऐसे स्वप्न बड़े चिंताजनक होते है, लेकिन हमने आपको सभी बाते बता दी है. अगर आपके मन में किसी भी तरह का कोई डाउट हो तो वह आप हमसे निचे कमेंट के जरिये पूछ सकते है.

हमने सपनो के विज्ञानं के बारे में काफी कुछ सीखा है, काफी समय इनके अर्थ जानने में लगाए आज हमे इसके बारे में काफी कुछ मालुम है। हम चाहते है की हमें जो मालूम है उससे लोगों को लाभ हो, हम उनकी मदद कर सके, बस इसीलिए आपके समक्ष यह वेबसाइट बनाई है। इसमें हमे आपकी मदद की जरुरत है वो यह की आप इन Posts को ज्यादा से ज्यादा Facebook, Whatsaap के Group में और अपने दोस्तों को भेजे ताकि इस जानकारी का सभी लाभ उठा सके - धन्यवाद। जरूर शेयर करे।

1 Comment

  1. Meine apne sapne mein apni dadi jo ke bahut saal gujar chuki hai ko dekha. Meine dekha ke ik gareeb budhiya raat mein 11 bje ke kareeb chhat se awaz laga rahi hai kuchh paison ke liye. Meri dadi chhat pe mere saath khadi hai. Dadi ne btaya ke 1979 mein is se paise liye the ab vo 179₹ + 22000₹ maang rahi hai. Dadi ne ₹100 uski taraf chhat se fek diya . Meine us se bola ke ye kanooni taur pe wajib udhari nahi hai. Ik samay ke baad aap udhar vasool nahi kar sakte. Uske baad hum chhat pe hi bne kamre mein sapriwaar sone chale gaye. Itne mein ik hijdon ki toli chhat se hi humare ghar mein ghusi or mujhe dhoondhne lgai. Unhe mein nahi dikha . To vo ghar ke bachon ko le ke jane lage jispe mein unke saamne aa gaya . Vo mujhe apne guru ke pass le gaye jo ke hijda nahi lag raha tha. Meine unhe puri baat batayi or bola ke chhat se paise maaangna ajeeb laga isliye meine aisa bola. Mein maafi mangta hoon. Vo mujhe budiya ke paas le gaye . Meine budiya se baat badal ke bata karni chahi Lekin use sab yaad tha. Meine kosis section 79c or 99 ka jikar kiya tha. Meine budiya ko sare purane kagaz dikhaye or bola ke meine saare kagaz niklwa lue the. Kagaz bahut saaf dikhayi diya Lekin meri job nahi pichhle 1.6 saal se jo ke sach hai abhi. Mein tej tej rone laga. Budiya shaant thi. Bahut bheed thi logon ki. Sab uska paksh ke rahe the or keh rahe the court mein le ke jao matter. Ik wakeel bhi tha jise phone karke bulaya gaya tha raat mein. Budhiya soch mein padi huyi thi. Meri tayi jo ke kuchh saal pehle mar chuki hai, mere cousin ko neend se utha ke layi jo k mere se 4 mahine Chhota hai or wahan kisi ka ashiwaad lene lagi jo ke gaddi pe betha the. Itne mein mere papa aaye or kuchh upaye btane lage jaise raat mein n kahin ka ke kuchh fall ke ana. Meine unhe beech mein chup karwa diya or fir thodi der baad aa ke hum dono ne gale lag ke khoob roye. Vo mohalle mein ik ladki bula rahe the jo ladayi jhagde mein n or sultanne ne n bahut tej hai. Utne mein neend khul gayi.

    Iska kya matlab huya

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!